Unit Sec Report 2015 16 .pdf

File information


Original filename: Unit_Sec_Report 2015 -16.pdf
Author: computer

This PDF 1.5 document has been generated by Microsoft® Word 2013, and has been sent on pdf-archive.com on 17/01/2016 at 04:49, from IP address 116.202.x.x. The current document download page has been viewed 493 times.
File size: 409 KB (9 pages).
Privacy: public file


Download original PDF file


Unit_Sec_Report 2015 -16.pdf (PDF, 409 KB)


Share on social networks



Link to this file download page



Document preview


RAJASTHAN MEDICAL & SALES REPRESENTATIVES’ UNION
UDAIPUR UNIT
वर्ष 2015 की गतिववधि रिपोर्ष
PLACED ON 17.1.16

साधियो,
सवषप्रिम मैं कॉमिे ड बी. एल. ससिंघवी, कॉमिे ड ए. बी. बिषन एविं मेहनिकशों के अधिकािों की
िक्षा एविं शोर्ण ववहीन समाज के तनमाषण के सिंघर्ष में अपना जीवन न्यौछावि किने वाले उन
िमाम साधियों एविं सहयोधगयों का जजन्होंने अपना बसलदान ददया, उनके प्रति गहिी सिंवेदना एविं
भावभीनी श्रद्ािंजली अवपषि कििा हूँ। आज की वावर्षक आमसभा उन िमाम दवा प्रतितनधि
साधियों को भी नमन कििी

जो कायष कििे हुए दघ
ष ना के सशकाि हुए या समय से पहले ही
ु र्

काल का ग्रास बन गए। साधियो, आज की आम सभा में हम वर्ष 2015 में यतनयन के अपने
कायषक्रमों को आगे बढाने के सलए जो कायषनीति िय की िी वह ककिनी कामयाब हुई, हम
ककिना आगे बढे , यह मलयािंकन किें गे।
अन्तर्राष्ट्रीय परर्दृश्य
अमेरिकी साम्रज्यवाद पिी ििह से दतु नया में ववसभन्न दे शों में अपनी इच्छानुसाि फैसले किवाने
के प्रयत्न में हि ििह के हिकण्डे इस्िेमाल कि िहा है , पिन्िु आज सवषशजतिमान की शजति के
सामने भी अजस्ित्व का सिंकर् आ खडा हुआ है । पूँजीवादी ववकास के उच्चिम सशखि पि पहुूँचने
वाले अमेरिका ने अपने आधिषक ववकास के सलए िेल जगि में फौजें भेजकि, जन असिंिोर् को
पैदा कि अपने ववरूद् चलने वाले लोगों के खखलाफ बगावि किवाई। यिोपीय दे शों ने इनकी पिी

सहायिा की। इसमें केवल उनका स्वािष िा, यातन कक अपने सिंकर् को हल किने के सलए िेल
पि कब्जा किने औि ऐसे अनुयायी पैदा किना जो उनके इशािों पि चलें। अमेरिका ने इस सािे
परिविषन में अपनी सकक्रय भसमका तनभाई है , लेककन पहली बाि OPEC ने अमेरिका की बाि ना
मानकि उत्पादन जािी िखा औि िेल की कीमि कम हो गई।
अमेरिका ने िीसिी दतु नया में सत्िािािी शजतियों पि दबाव बनाकि वहाूँ व्यापाि बढाने औि
अपना माल खद
ु की शिों पि तनयाषि किने का दबाव बढाया है । इसके बावजद भी अमेरिका में
गिंभीि मिंदी का दौि है । इसके साि-साि पिा यिोप भी मिंदी की चपेर् में है । ये दे श भयिंकि
बेिोजगािी औि ववत्िीय सिंकर्ों से जझ िहे हैं। सािी दतु नया को कजष दे ने वाले अमेरिका में 16
1

प्रतिशि से अधिक बेिोजगािी बढ गई है , जजसकी वजह से जनउपयोगी उद्योग जैसे कपडा,
कलपुज,े बबजली का सामान िो ओबामा ने िीसिी दतु नया में स्िान्नािरिि कि ददये हैं औि हवाई
जहाज, पनडुजब्बयाूँ, शस्र तनमाषण ही अधिकिि वहाूँ िह गए हैं। यिोप व अमेरिका के कोिपोिे र्

जगि को सभी जगह पि कडी र्तकि का सामना किना पडा है । पूँजीवादी सिंकर् ने ही अमेरिका
औि यिोप में उिल-पि
ु ल मचा दी है औि वहाूँ की जनिा, बेिोजगािी, मूँहगाई, भ्रष्र्ाचाि से ग्रससि
है । असल में िो World Bank पि दबाव बनाकि अमेरिका ववकासशील दे शों पि दबाव की नीति
बनाना चाहिा है । वह इन दे शों को जबिदस्िी आधिषक गुलाम बनाने की कोसशश कि िहा है ।
इसके अलावा अिंििाषष्रीय स्िि पि भी आििंकवाद का खििा मौजद है । इन आििंकवाददयों का
कोई भी िमष नहीिं है । ISIS ने फ़्ािंस में बोलने औि सलखने की आज़ादी पि हमला कि ककिने ही
लोगो को मौि के घार् उिाि ददया। इन आििंकवाददयो से तनपर्ने के सलए अिंििाषष्रीय स्िि पि
एक पुिजोि नीति बनाने की जरुिि है ।
र्रष्ट्रीय परर्दृश्य
चन
ु ावों में बडे बडे वादे कि के वपछले साल नई सिकाि सत्िा में आई लेककन अमेरिका, इिंग्लैण्ड
को अपना आदशष मानिे हुए उसने वो नीतियाूँ जािी िखी, जजसके परिणामस्वरुप पैसे वाला िो
अिबों-खिबों िक पहुूँच गया है औि आम आदमी गिीबी की माि झेल िहा है । जनिा का
असिंिोर् उत्कर्ष पि है । कोपोिे र् जगि से गठजोड किके, दे श के दहिों की अनदे खी कििे हुए
सिकाि पिी ििह से पूँजीपतियों औि ववदे शी तनवेशकों के आगे निमस्िक है । FDI इस नीति
का एक स्पष्र् उदाहिण है । बडी-2 ववदे शी कम्पतनयों के रिर्े ल सैतर्ि में उिि जाने की वजह से
भािि के छोर्े -छोर्े खद
ु िा व्यापािी बिंदी के कगाि पि आ जाऐिंगे। औि िो औि इसे आवश्यक
सैतर्ि जैसे Pharma औि Defence में भी लाग कि ददया गया। हालाूँकक सच्चाई यह है कक जब
यह सिकाि ववपक्ष में िी िो FDI के वविोि में िी औि न जाने ककिने ही ददन उन्होंने सिंसद
नहीिं चलने दी िी। चन
ु ावो में ककये गए वादे पिी ििह ध्वस्ि हो गए। काले िन की वापसी िो
जैसे ख्वाब हो गयी। Social Media पि कब्ज़ा कि अभी भी सिकाि आम जनिा को भल
ु ावे में
िखने की कोसशश कि िही है । मीडडया की भसमका भी कुछ अच्छी नहीिं है । खाद्य पदािों की
कीमिों में भी बेिहाशा ववृ द् हो चक
ु ी है । िोर्ी, कपडा औि मकान का नािा बेकाि ससद् हो चक
ु ा
है । बबजली की दिें बढ िही है । ककसानों की सजब्सडी खत्म की जा िही है । बेिोजगािों की किािें
लम्बी होिी जा िही है। सिकाि ने अब बेिोजगािों का िजजस्रे शन किना ही बिंद कि ददया है ।
धचककत्सा व सशक्षा का तनजीकिण ककया जा िहा है । आम आदमी न िो ईलाज किा सकिा है
औि न ही अपने बच्चे को ढिं ग से सशक्षा ददला सकिा है । इन जरुिी मद्द
ु ों से ध्यान हर्ा कि
2

दसिे ही नािों का उपयोग ककया जा िहा है । शेयि बाज़ाि की बढि को दे श की िितकी माना जा
िहा है , जबकक यह बबलकुल स्पष्र् है कक इन सौदों में ववदे शी औि काला िन लगा हुआ है ।
हमािे दे श में गि वर्ष GDP की दि मार 4 प्रतिशि िही। हमािी Industrial Growth भी ससफष
1 प्रतिशि िही। भाििीय रूपया अपने न्यनिम स्िि पि आया। इन सभी कािणों से मूँहगाई में
अनाप-शनाप ववृ द् हुई।
हाल में पाककस्िान द्वािा दोबािा हमला किना बहुि ही धचिंिनीय औि तनिंदनीय है ।
चन
ु ाव पवष सिकाि के वादे :
-

काला िन 30 ददन में वावपस लायेंगे

-

लाहौि भािि का दहस्सा होगा – 6 महीने में

-

भ्रष्र्ाचारियों को जेल

-

मूँहगाई पि िोक

-

FDI पि िोक

आप खद
ु अिंदाज़ा लगा सकिे हैं कक ककिने वादे पिे हुए हैं।
हालाूँकक लोगो ने िोडा बहुि समझा औि बबहाि के निीजे इसका उदाहिण हैं। ददलली सिकाि
को काम न किने दे ना भी इनकी खीज का एक उदहािण है ।
Labour Reforms
पिंजीपतिओिं की सहायिा से सत्िा में आयी इस सिकाि ने, इन पिंजीपतिओिं के कहने पि आम
Working Class औि मजदिों पि कुठािाघाि शुरू कि ददया। वह िाजस्िान की िजष पि
reforms लाना चाहिे हैं। इन reforms के कुछ पहल हैं
1. पहले ककसी कािखाने या उद्योग में 100 या इससे अधिक मजदि काम कििे िे िो इसे
बिंद किने के सलए सिकािी अनुमति जरुिी िे लेककन अब इसके सलए मजदिों की सिंख्या
300 किने का प्रस्िाव है ।
2. Franchise या ठे के पि काम किने वाले workers ठे केदाि बदले जाने की जस्िति में
अपनी नौकिी खो दें गे।
3. यतनयन बनाने के सलए 15 प्रतिशि मजदिो की जरुिि हर्ा कि इसे 30 प्रतिशि कि
दे ना मजदिों की एकिा को कुचलने का प्रयास है ।
3

4. अब अपना उद्योग िजजस्र्ि किाने के सलए मजदिों की न्यनिम सिंख्या को 20 से 50
किना Unorganised Labour को बढावा दे ना है ।
5. Sales Promotion Employees Act को खत्म किने की कोसशश किना
इन सबसे बचने के सलए एक सोची समझी नीति की जरुिि है । इसके सलए सभी रे ड
यतनयनों ने समलकि हडिाल का आहवान ककया।
2 ससिम्बि को हमािी यतनयन ने अखखल भाििीय िज़ष पि इस हडिाल में भाग सलया एविं
िै ली तनकली गयी।
Pharma Industry
फामाष उद्योग में नौकरियों के खििे को दे खा जा सकिा है । गौििलब है कक वेिन में िो कोई
ववृ द् नहीिं है । मूँहगाई बढने के कािण आज दवा उद्योग में काम किने वाला एक लाचाि सा
जीवन जी िहा है । इसके अतिरिति वह बढ िहे दबाव ििा अमानववक व्यवहाि को सहन कििे
हुए वपसा हुआ सा महसस कि िहा है । आज उद्योग में एक अजीब-सा माहौल है । दे श में
बेिोजगािों की सिंख्या में ववृ द् के कािण कम्पतनयों के अत्याचािों को सहन किना, दवा उद्योग में
कायषिि साधियों की मजबिी हो गई है । यहाूँ िक कक आज दवा प्रतितनधि आत्महत्या किने को
मजबि है । दवा के दामों में ववृ द् के कािण आज जरूिी दवाऐिं आम आदमी के सलए उपलब्ि नहीिं
है ।
सबसे बडा खििा दवा उद्योग में मलर्ी नैशनल कम्पतनयों द्वािा आधिपत्य जमाने का है । FDI
के नाम पि आज Abbott औि Pfizer जैसी कम्पतनयाूँ हमािे दे श में अपना मख्
ु य कायाषलय
स्िावपि कि िही है । FDA का दरु
ु पयोग कि के मलर्ी नेशनल कम्पतनयाूँ हमािी भाििीय
कम्पतनयों को ख़िम किने में लगी हुई हैं। यह ववदे शी कम्पतनयाूँ Infrastructure के नाम पि
िो कुछ भी नहीिं कि िही हैं बजलक भाििीय कम्पतनयों का अधिग्रहण कि भाििीय दवा बाजाि
पि अपना कब्जा जमा िही हैं। जादहि सी बाि है कक पेर्ेन्र् जैसे काननों के बाद यह कम्पतनयाूँ
अपनी दवाइयाूँ आसानी से मूँह
ु मािंगे दामों पि भािि में बेचा किे गी। इस वजह से ना ससफष
लोगों को दवाओिं से महरूम िहना पडेगा बजलक गिीबी औि भी बढ जाएगी। दसिी ओि
कम्पतनयाूँ तनिन्िि नौकरियों में कर्ौिी कि बेिोजगािी की ििफ अग्रसि कि िही है ।

4

State Related Issues
असल में यह समझने की बहुि आवश्यकिा है कक ककसी भी कम्पनी में काम कििे हुए भी हम
सबकी बहुि सी सामान्य आवश्यकिाऐिं हैं। जैसे कक अत्यधिक मजदिी, मूँहगाई, Job Security,
सिकािी एजेंडा, भ्रष्र्ाचाि से होने वाले नुकसान, एलपीजी औि पैरोल पि सजब्सडी, काननों की
पालना इत्यादद। इन सभी के सलए सभी साधियों का सामान उििदातयत्व है । अखखल भाििीय
स्िि पि औि िाज्य स्िि पि यतनयन द्वािा लगािाि कायषक्रम ददए जा िहे हैं।
हमािी यतनयन ने काफी सािे प्रयास किके आज minimum wage कफतस किवाया औि दवा
प्रतितनधियों के सलए एक खास श्रेणी को बनवाया, पिन्िु हमािी वास्िववक माूँग रू. 15,000/प्रतिमाह अभी बाकी है । हमािी यतनयन िाज्य के मिंबरयों व अधिकारियों से बाि कि िही है ।
िाज्य स्िि पि सदस्यों द्वािा प्रदशषन औि ििने ददए गए। लेककन सिकाि द्वािा अधिकारियों को
यह कह ददया गया है कक इस पि कोई काम नहीिं किना है । इसीसलए अभी औि सिंघर्ष की
जरुिि है ।
8 Hours work--. अखखल भाििीय स्िि पि औि िाज्य स्िि यतनयन ने तनणषय लेकि 8 घण्र्े
प्रतिददन कायष के ससद्ान्ि को अपनाया। इसको जामा पहनाने हे िु दवा उद्योग के सिंगठनों ने
डॉतर्िों औि कैसमस्र्ों के सिंगठनों से बाि किके इसे लाग ककया। गौििलब है कक ककसी भी
मैनेजमैन्र् ने इसका कोई वविोि नहीिं ककया। बहुि से िाज्यों में सिकाि ने इस बािे में आदे श
भी दे कि इसे काननी जामा पहनाया। अपने िाज्य में भी हमािी यतनयन ने कई बाि सिकाि से
बािचीि की औि एक समय में ऐसा लग िहा िा कक सिकाि इस पि अपना आदे श तनकाल
दे गी, लेककन उन्होंने यह वादा सैद्ाजन्िक रूप से मानने के बाद भी पिा नहीिं ककया। इस वर्ष
यतनयन ने अपनी यतनर् के माध्यम से MLAs को समलना शुरू ककया। श्रम मिंरी को भी समले।
हम लगभग 20 MLAs को समले। सभी इकाइयों में श्रम ववभाग के सामने ििना भी ददया गया।
हमािी इकाई में भी MLA फल चिंद मीणा को समले। हमािी इकाई में भी श्रम ववभाग के सामने
प्रदशषन में साधियों ने भाग सलया।
Council Movement
काउिं ससल मवमैंर् यतनयन का एक असभन्न अिंग है । यह िीड की हड्डी के रूप में है । इसीसलए
इस मवमैंर् की गति पिे movement की गति को िय कििी है । इसीसलए इस movement में
बहुि से updation ककए गए है। OSG कम्पतनयों की सामान्य समस्याओिं को लेकि council
5

movement का United Movement काम कि िहा है । इस वर्ष बहुि सी कम्पतनयों में council
movement के द्वािा कायषक्रम सलए गए। यतनयन ने भी तनणषय सलया है कक प्रत्येक कम्पनी में
काउिं ससल बनाने की कोसशश हो ििा इन कम्पनी में Grievance Committee का गठन ििा
Charter of Demands ददया जाए। यतनयन की भी यह सोच िही है कक सभी कम्पतनयों में इस
movement के Cardinal Points को पिा ककया जाए। यह points हैं:1. Recognition of Trade Union
2. Grievance Committee Formation
3. Regular Wage Settlement
4. No Victimization
5. No interference in Trade Union Work
इन माूँगों को लेकि इस साल हमने Alembic – Indoco – Himalaya – IPCA -MicroAlkem- Mayer- Macleods- Ozone- Sun Ranbaxy इत्यादद में अखखल भाििीय स्िि पि
कायषक्रम सलए।
हमािी इकाई में भी कुछ कम्पतनयों जैसे Alembic, Alkem, Sun-Ranbaxy के साधियों ने
हडिाल इत्यादद में सशिकि की।
महत्त्वपणष है कक बहुि सी कम्पतनयों में बहुि आगे की ओि बढे । Intas, Macleods इत्यादद में
हमािी जस्िति बहुि मजबि हुई है । Win Medicare, BSN औि Stadmed में हमािा charter
settle हुआ। Dey’s, GRL, Abbott India में भी charter पेश ककया गया। इसके अलावा बहुि
सािी कम्पतनयों में हमने हडिाल की ओि अपने नौकिी सुिक्षा ििा अधिकािों की बाि की। एक
बाि बहुि ध्यान िखने की है कक इन settled companies के Sales Promotion Employees
को तनिन्िि अपनी यतनयन के सलए काम किना पडेगा, िभी इन कम्पतनयों में हमािा अधिकाि
बना िह पाएगा।
Wallace में हमािी यतनयन को मान्यिा है पिन्िु management ने कुछ साधियों को रान्सफि
कि ददया है । हम हडिाल पि गए औि अभी भी लडाई जािी है ।
इसी ििह अपने Charter of Demands को लेकि BE औि Indoco में memorandum का
कायषक्रम है । Indoco के सािी 30 जनविी को हडिाल पि िहें गे।
Svizera में अपने सिंघर्ों के कािण management दबाव में आयी।
6

CFL का Adcock द्वािा अधिग्रहण किने के बाद अचानक ही दवा प्रतितनधियों पि सिंकर् आ
गया, लेककन council movement द्वािा ही सभी नौकरियों को बचाया जा सका। इसी कडी में दो
औि भी महत्वपणष merger हुए। Torrent-Elder औि Sun-Ranbaxy का। Torrent-Elder में
सिंघर्ष चिम सीमा पि चला। Torrent ने हमािे साधियों को सलखखि प्रस्िाव के बावजद अपनी
शिों पि सलया। अभी भी हमािा सिंघर्ष जािी है ।
SUN RANBAXY— इस कम्पनी में ववलय के बाद SUN management ने अपने हमले िेज़
कि ददए। कोर्ष में सलखखि agreement के बावजद इस management ने 54 साधियो को दि
दिाज रान्सफि कि ददया। मख्
ु य मिंशा िी यतनयन को खत्म किना। इस कम्पनी में हमािे सिंघर्ष
जािी है । पिे भािि में सािी हडिाल पि गए। बैज पहने। आने वाले समय में औि भी सिंघर्ष िेज
ककया जा िहा है । कायषक्रम आ चक
ु े हैं। हि सिि में इस management को सबक ससखाना जरुिी
है ।
Council Movement को सुचारू रूप से चलने के सलए All India औि िाज्य की िजष पि इकाई
में भी Council Sub Committee का गठन ककया गया। Convener की जजम्मेदािी कॉमिे ड
अनाबबक सिकाि को दी गयी है । इस साल इस कमेर्ी ने यहाूँ पि Core Committee की मीिंदर्िंग
की। िाज्य के तनदे र्ानस
ु ाि बहुि सी कम्पतनयों में कायषक्रम सलए गए। चकिं क यह यतनयन की
बहुि महत्वपणष कमेर्ी है इससलए अभी भी इसके सलए बहुि से कायष लगािाि किने की जरूिि
है । कोि कमेर्ी की बैठकें लगािाि किनी पडेंगी।
Fight for Legal Right
बहुि सी कुबाषतनयों के बाद हमािे सलए Sales Promotion Employees Act को बनाया गया
लेककन गौििलब है कक अभी भी किंपतनयों ने इसे लाग नहीिं ककया है । इस कानन के अनस
ु ाि जो
हमािे सलए छुदियों का प्राविान, Form A में Appointment Letter इत्यादद अभी हमें नहीिं
समला है । हमने इसके कुछ Act में परिविषन की माूँग की है , अभी वो बाकी है । हमािे सिंघर्ों के
कािण अब इस एतर् को 10 औि भी उद्योगो पि लाग कि ददया गया है । जब यह एतर्
परिविषि होकि प्रचलन में आ जाएगा, सेलस की जजम्मेदािी से बहुि हद िक मुजति समलेगी।
हमािी नौकरियाूँ भी काफी हद िक सिु क्षक्षि हो जाएिंगी। इन सब माूँगो के सलए FMRAI ने कई
बाि सिकाि के नुमाईंदों से बाि की। लेककन कोई भी निीजा पणष रूप से नहीिं तनकला। हालाूँकक
काफी हद िक सिकािी अधिकािी हमािी माूँगो से सहमि हुए, लेककन सिकाि की नीयि शायद

7

साफ नहीिं िही। हमें इस मुद्दे पि बहुि लडने की जरूिि है । अभी खििा इस बाि का बढ गया है
कक कम्पनी मासलको ने इस एतर् को हर्ाने की माूँग िख दी है ।
FMRAI CONFERENCE
हमािी अखखल भाििीय यतनयन FMRAI की CONFERENCE 3 से 7 फिविी को अनाषकुलम
में होगी। हमािी इकाई से 4 सािी भाग लेंगे।
RMSRU CONFERENCE
अपने िाज्य यतनयन की State Conference वपछले साल जोिपुि में हुई। दो ददवसीय इस
मीदर्िंग में िाज्य भि से प्रतितनधियो ने भाग लेकि अपने कायषक्रमो के बािे में चचाष की। इस
Conference में हमािी इकाई के सदस्यों ने भाग सलया
OTPI (Other then Pharma Industry)
चूँ कक SPE एतर् हमािे सिंघर्ो के कािण अब Pharma के अलावा 10 औि Industries पि लाग
कि ददया गया है । इससलए िाज्य भि में OTPI के सदस्यो पि काम शुरू हो चक
ु ा है औि बहुि
सी ईकाइयों में हमें OTPI की membership भी समली है । उदयपुि में यह कायष बाकी है ।
VETERNARY:
वेर्ेिनिी SEGMENT में काम कि िहे साधियों को भी सदस्य बना कि उन्हें िहि ददलाना
यतनयन का प्रािसमक लक्ष्य है । हमािी इकाई ििा एक दो औि इकाइयों में इस segment के
सािी हमािे सदस्य िहे हैं लेककन िाजस्िान स्िि पि अभी काम बाकी है ।
DRUG CONVENTION
23 नवम्बि को ददलली में दवाओ से सम्बिंधिि मुद्दों को लेकि हुए CONVENTION में उदयपुि
इकाई से कॉमिे ड सौिभ गौिम ने भाग सलया।
FDA
USFDA के भािि में हस्िक्षेप की वजह से ददनािंक 24 नवम्बि को ददलली में वविोि कायषक्रम
हुआ जजसमे अपनी इकाई से कॉमिे ड सौिभ गौिम ने भाग सलया।

8

मई दिवस:हि साल की ििह बीिे वर्ष भी 1 मई मजदि ददवस मनाया गया।

इकरई के करयाकलरप:इकाई को सुचारू रूप से चलाने के सलए 15 District Committee Meetings हुईं जजनमें किीब
70 % सदस्यों ने भाग सलया। 10 General Body Meetings हुई। िाज्य की िज़ष पि इकाई ने
भी ever highest 445 memberships एकबरि की।
अपने हकों को बचाने हेिु औि दवा सम्बिंधिि मद्द
ु ों को लेकि 16 ददसिंबि को हडिाल की। अपनी
इकाई में 146 से अधिक साधियों ने इसमें भाग सलया।
कॉमिे ड िाजेश सेन के बीमाि होने पि उनके सलए लगभग रू. 1 लाख इकट्ठे ककये गए औि उन्हें
उनके account में जमा किवाया गया। इकाई में कई साधियों को ववसभन्न प्रकाि की उनकी
मैनेजमैन्र् की धचदट्ठयों के जवाब सलखवाकि कुछ हद िक नौकरियों की सुिक्षा प्रदान की गई।
कुछ साधियों के पुिानी कम्पनी से पैसे तनकलवाने के सलए भी कायषवाही की। ववसभन्न मैनेजिों
से सदस्यों की मजु श्कलों के बािे में बािचीि की गई। समय कदठन िा, लेककन समल-जल
ु कि हम
उभि गए। आने वाला समय औि भी चन
ु ौिीपणष है । जाने-अनजाने में यदद कोई काम किना िह
भी गया हो िो आने वाली कमेर्ी इससे सीख लेकि उसे पणष किें । बडी एकिा के सलए एक बडी
समझदािी की जरूिि है ।

िन्यवाद

सुिेन्र ससिंह
For and on behalf of District Committee
FMRAI जजिंदाबाद

CITU जजिंदाबाद

9

RMSRU जजिंदाबाद


Related documents


the dartmouth review 5 28 2009 volume 28 issue 18
unit sec report 2015 16
jake hunter april resume pdf
gsc january 2019 meeting minutes pdf
ulteig yearend brochure r12 compressed
final tre rpt 15 16

Link to this page


Permanent link

Use the permanent link to the download page to share your document on Facebook, Twitter, LinkedIn, or directly with a contact by e-Mail, Messenger, Whatsapp, Line..

Short link

Use the short link to share your document on Twitter or by text message (SMS)

HTML Code

Copy the following HTML code to share your document on a Website or Blog

QR Code

QR Code link to PDF file Unit_Sec_Report 2015 -16.pdf